आखिर पूरी दुनिया राहुल गांधी को पप्पू क्यू बोलती है क्या आपने कभी सोचा है? काँग्रेस के नेता राहुल गांधी उतने भी बुरे नही है जितना हमे दिखाया जाता है । यह बात सही है की उन्हे बोलने मे थोड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है परंतु इसका मतलब ये नही है की वो एक बुरे नेता हैं। Experience के मामले मे अभी भी Rahul Gandhi थोड़े कच्चे हैं और दूसरी तरफ हैं नरेंद्र मोदी जी जो 20 साल की उम्र से ही इस छेत्र मे हैं।

राजनीति करना सबके बस की बात नही है क्यूकी इसमे अनेकों उतार चढ़ाओ का सामना करना पड़ता है। आप लोगों से अनुरोध है क अब कभी कभी राहुल गांधी का पूरा भाषण सुन कर देखिये। भाषण मे उठाए गए सवाल तो मजबूत होते हैं परंतु वह बीच मे कुछ ऐसा बोल जाते हैं जिससे की Opponent को चीज़ें तोड़ मरोड़ कर पेश करने का मौका मिल जाता है। वैसे भी आज कल किसी भी न्यूज़ को viral करने के लिए सबसे बड़ा प्लैटफ़ार्म social media है । इसके जरिए speach का edited version लोगो तक पहुंचाया जाता है । ऐसा सिर्फ Congress के नेताओं के साथ नहीं बल्कि हर Party के साथ होता है।

अगर आप सच मे Rahul Gandhi के गुणों के बारे मे जानना चाहते हैं तो उनके द्वारा Loksabha मे की गयी बातों को गौर से सुने।  इसमे राहुल गांधी जितने भी सवाल पूछते है, नरेंद्र मोदी जी उसका जवाब बिलकुल उल्टे तरीके से देते है या यूं कह लें की सवाल को अपने अनुसार मोड कर जवाब देते हैं (यह भी एक काला है, परंतु आपको भी चीज़ें समझनी होंगी। ) जैसे राहुल गांधी ने एक बार पूछा था की मोदी जी केवल जुमले बाजी करते है जैसे Jumla No. 1 = 2 cr. नौकरिया , जुमला no 2= 15 lakh रुपेय सबके अकाउंट मे । अब मोदी जी के बोलने की बारी आई।

तब उन्होने कुछ ऐसा जवाब दिया: वो बोलने लगे की “Surgical Strike को लोग जुमले बाजी बोल रहे है, सेना को फ्री hand देना जुमले बाजी है तो हाँ मैं करता हु जुमलेबाजी”। हकीकत यह है कि राहुल गांधी ने surgical strike से संबन्धित कुछ बोला ही नही था फिर भी उन्हे Target बनाया गया। और हम यह सोच कर उन्हे Pappu बोलने लगे कि वो देश कि army के खिलाफ हैं या फिर Surgical Strike के खिलाफ हैं।

राहुल गांधी का एक बयान बहुत चर्चे मे था [हम एक तरफ से आलू डालेंगे और दूसरी तरफ से सोना निकलेगा ] इस बयान का मतलब ये था की किसानो को आलू का उचित मूल्य मिलेगा, उनके फसल कभी बर्बाद नही होंगे । माना की काँग्रेस की सरकार जितने समय से है उतने समय मे भारत का काफी विकास हो जाना चाहिए था। अभी तक भारत और पाकिस्तान के बीच मे जितने भी युद्ध होते आए हैं उन सभी के दौरान काँग्रेस का राज चल रहा था और आप सब को यह बात पता होना चाहिए ही कि किसी भी देश से लड़ाई होने पर एक देश 10 साल पीछे चला जाता है।

Note: इस Post के माध्यम से हम न तो आपको Rahul Gandhi को अच्छा मानने को कह रहे हैं और न ही किसी अन्य व्यक्ति को बुरा। हमारा आग्रह सिर्फ इतना है कि Rahul Gandhi को भले बुरा बोलें परंतु इस तरह से देश के एक नेता को Pappu बुलाना न सिर्फ उनके लिए बुरी बात होगी बल्कि देश के लिए भी बुरा है क्यूकी पूरी दुनिया इसकी चुटकी लेती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here